शुक्रवार, 1 जनवरी 2010

जागो ग्राहक जागो .......

विवेक मिश्र Think Before Drinking Tea while traveling by Indian Railway (IRCTC)
These snaps were taken while traveling by Kokan railway (Janshatabadi Exp.)
Caterers use toilet water for making tea
Your tea is made in a special zone near public toilet
Bath heater is used for making tea.

Jago Grahak Jago

with regards.. Ravi Ranjan kumar K.R., BHU, SRD, D.S.S.W, Bihar, U.P., Maharashtra, DelhiBecause an individual is the sum total of his/her journey so far in life..

6 टिप्‍पणियां:

Yugal Mehra ने कहा…

शर्म की बात है

परमजीत बाली ने कहा…

अब क्या कहे इस व्यवस्था को.......शर्मनाक!!

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

बेहतरीन उदाहरण है जागरूक पत्रकारिता का..... जब कभी दोबारा इस मार्ग से यात्रा करें तो मुंबई आने पर फोन घुमाइयेगा हम मिल सकेंगे और अच्छी चाय पिलवाउंगा(घर की)। आपकी गाड़ी मेरे शहर नई मुंबई के "पनवेल" से होकर ही जाती है। मेरा मोबाइल नंबर है - 9224496555

रामकृष्ण गौतम ने कहा…

Khul Gayi Pol...


Shukriya Saab...



Regards

Ram K Gautam

kalamwala-gunda ने कहा…

Rail me ho khel ko aap ne jag jahir kar apna patrkarita dharm nibhadiya h. ab basharm parsashan ko chahiye ki wo is sharmnak kargujari k liye thodi si sharm kar le............. wah mere bhai sabas.

ajit kumar mishra ने कहा…

पापी पेट का सवाल है पर क्या पेट इतना पापी है।